८ सावधानियाँ जिससे आप ऑनलाइन बैंकिंग फ्रॉड के शिकार कभी नहीं होंगे

हम कैशलेस पेमेंट और डिजिटल इंडिया के सपने को पूरा करने तथा इसमें आम जन मानस के भरोसे को बनाए रखने के लिए दृढ़ है।

हम आपसे यह भी अनुरोध करते हैं कि आप अपनी जानकारी की सुरक्षा में अपनी भूमिका निभाएं। जब भी आप इंटरनेट बैंकिंग सेवाओं का उपयोग कर रहे हों, सुरक्षित बैंकिंग अनुभव के लिए ऑनलाइन बैंकिंग करते समय कुछ सावधानियों को ध्यान में रखें।

सुरक्षित बैंकिंग के लिए, अपने कंप्यूटर पर फ़ायरवॉल और एंटीवायरस सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल करें, उपयोग के बाद अपने खाते को लॉग-ऑफ करें, अपने पासवर्ड को नियमित रूप से बदलें, और कभी भी अपना पासवर्ड न लिखें या टेलीमार्केटर्स को अपनी संवेदनशील जानकारी प्रदान करें।

आईये जाने ऑनलाइन बैंकिंग करते समय इन 8 सावधानियों के बारे में

1. साझा कंप्यूटरों, कैफे और पुस्तकालयों जैसे सार्वजनिक स्थानों पर इंटरनेट बैंकिंग का उपयोग करने से बचें।

2. इंटरनेट बैंकिंग पर लॉग-ऑफ करना हमेशा याद रखें और जब आप अपनी ऑनलाइन बैंकिंग समाप्त कर लें तो अपना ब्राउज़र बंद कर दें।

3. अपने ब्राउज़र में ‘स्वतः पूर्ण’ फ़ंक्शन को बंद रखें।

4. कंप्यूटर में वायरस का पता लगाने और अक्षम करने में सहायता के लिए फ़ायरवॉल और एंटी-वायरस सॉफ़्टवेयर का इस्तेमाल करें तथा इसे हमेशा अपडेटेड रखें|

5. अपना इंटरनेट बैंकिंग पासवर्ड नियमित रूप से बदलें और इसे कभी भी किसी को न बताएं।

6. हमेशा अल्फ़ान्यूमेरिक यानी अंक और वर्णों से बने पासवर्ड के साथ मजबूत पासवर्ड का उपयोग करें जिसका आसानी से अनुमान नहीं लगाया जा सकता है और विभिन्न खातों के लिए अलग-अलग पासवर्ड का उपयोग करें।

7. अपना पासवर्ड कही लिख कर मत रखें |

8. आपके खाते की जानकारी की पुष्टि या सत्यापन करने का दावा करने वाले टेलीमार्केटर्स या कॉल करने वालों को अपने खाते की जानकारी या ओटीपी न दें।

Leave a Comment