सुकन्या समृद्धि खाता : बड़ी खबर! बेटियों के नाम पर बरसे पैसों की बरसात, मिलेंगे 65 लाख रुपये, जानिए डिटेल में

Sukanya Samriddhi Yojana: केंद्र सरकार ने बेटियों के भविष्य के लिए कई योजनाएं शुरू की हैं। इसमें सुकन्या समृद्धि योजना भी है। जिसे मोदी सरकार ने साल 2015 में शुरू किया था। इस योजना में आप हर दिन सिर्फ 416 रुपये बचाकर अपनी बेटी को 65 लाख रुपये की मालकिन बना सकते हैं। यह एक दीर्घकालीन योजना है। अगर आप भी अपनी बेटी की शादी या उच्च शिक्षा के लिए निवेश करना चाहते हैं तो सुकन्या समृद्धि योजना (एसएसवाई) में निवेश करना आपके लिए बेहतर साबित हो सकता है।

इस स्कीम की खास बात यह है कि इसमें 250 रुपए से निवेश की शुरुआत की जा सकती है। इसमें ब्याज भी अन्य योजनाओं के मुकाबले बेहतर है। साथ ही टैक्स छूट का भी लाभ मिलता है। इस योजना में निवेश कर आप अपनी बेटी के भविष्य की टेंशन से मुक्त हो सकते हैं। इस स्कीम के जरिए आप मोटा फंड बना सकते हैं।

आप सालाना 1.5 लाख रुपये तक जमा कर सकते हैं

सुकन्या समृद्धि योजना में 10 वर्ष तक की बालिका का खाता खुलवाया जा सकता है। इसमें मिनिमम 250 रुपये और मैक्सिमम 1.50 लाख रुपये जमा कर सकते हैं। बेटी के 21 साल के होने पर यह योजना परिपक्व हो जाएगी। हालांकि, इस योजना में आपका निवेश कम से कम तब तक लॉक रहेगा जब तक कि लड़की 18 साल की नहीं हो जाती। 18 साल के बाद भी कुल पैसे का 50% निकाला जा सकता है। जिसका उपयोग वह ग्रेजुएशन या आगे की पढ़ाई के लिए कर सकती है। इसके बाद सारा पैसा तभी निकाला जा सकता है जब वह 21 साल की हो जाए।

15 साल तक पैसा जमा रहेगा

इस योजना की खासियत यह है कि पूरे 21 साल तक आपको पैसा जमा नहीं करना होता है। खाता खोलने के समय से 15 साल तक ही पैसा जमा किया जा सकता है। जबकि बेटी को 21 साल की उम्र तक ब्याज मिलता रहेगा। फिलहाल सरकार इस पर 7.6 फीसदी सालाना की दर से ब्याज दे रही है.

कहां खुलवाएं खाता?

सुकन्या समृद्धि योजना (SSY) खाता किसी भी डाकघर या बैंक में खोला जा सकता है। योजना के तहत बेटी के जन्म के 10 साल के अंदर कम से कम 250 रुपए जमा कर इस खाते को खोल सकते हैं।

उच्च वापसी योजना

सुकन्या समृद्धि योजना में ब्याज दर 7.6 फीसदी सालाना है। एसएसवाई में पीपीएफ, एफडी, एनएससी, आरडी, मंथली इनकम स्कीम या टाइम डिपॉजिट के मुकाबले ब्याज मिल रहा है। खास बात यह है कि योजना की मेच्योरिटी 21 साल है, लेकिन माता-पिता को इसमें 15 साल ही निवेश करना होगा। शेष वर्ष के लिए ब्याज बढ़ता रहता है। इस योजना में आप जितनी राशि निवेश करेंगे। मेच्योरिटी पर आपको 3 गुना रिटर्न मिलेगा। मौजूदा ब्याज दरों पर इस योजना के जरिए अधिकतम 64 लाख रुपये तक की राशि जुटाई जा सकती है।

Leave a Comment