ED का बड़ा एक्शन: सौम्या चौरसिया समेत कई आरोपियों की 152 करोड़ की संपत्तियां की अटैच

केंद्रीय जांच एजेंसी प्रवर्तन निदेशालय ( Directorate of Enforcement) ने छत्तीसगढ़ में बड़ी कार्रवाई को अंजाम दिया है. ईडी ने छत्तीसगढ़ कोल ट्रांसपोर्टिंग और मनी लॉन्ड्रिंग से जुड़े मामले में तफ्तीश के बाद कई प्रमुख आरोपियों की करीब 152 करोड़ 31 लाख रुपये से ज्यादा की रकम की कई चल और अचल संपत्तियों का अटेच (provisionally attached movable and immovable properties) किया है. ईडी की कार्रवाई से पिछले एक महीने से छत्तीसगढ़ में हलचल मची हुई है. अब यह हलचल और तेज होने की संभावना जताई जा रही है.

जांच एजेंसी ईडी की ओर से छत्तीसगढ़ की वरिष्ठ ब्यूरोक्रेट और राजनीतिक गलियारों में बेहद चर्चित हस्ती सौम्या चौरसिया की 21 संपत्तियों को अटैच किया गया है. उनका अनुमानित बाजार मूल्य करोड़ों रुपये में है. पिछले कुछ दिनों पहले ही सौम्या चौरसिया की गिरफ्तारी के वक्त ये खबर राज्य में काफी चर्चा का मुद्दा बन गई थी. जांच एजेंसी की तफ्तीश में ये बात सामने आई थी कि खनन से जुड़े 15 जुलाई 2020 को हुए सरकारी आर्डर को नजरअंदाज करने के लिए बड़े स्तर की साजिश रची गई थी.

इन आरोपियों की संपत्तियां की गई हैं अटैच
खनन के बाद ट्रांसपोर्टिंग से संबंधित पॉलिसी में जानबूझकर मनी लॉन्ड्रिंग करने के लिए उसमें बदलाव करने में कई लोगों की भूमिका रही थी. इस मामले में जैसे जैसे तफ्तीश का दायरा आगे बढ़ेगा कई लोगों की मुश्किलें बढ़ने वाली हैं. ईडी मुख्यालय के ओर से दी गई जानकरी के मुताबिक छत्तीसगढ़ कोल ट्रांसपोर्टिंग और मनी लॉन्ड्रिंग मामले में कई अन्य चर्चित आरोपियों की चल-अचल संपत्ति को अटैच किया गया है. इनमें इन आरोपियों की संपत्तियां शामिल हैं.

1. सूर्यकांत तिवारी की 65 प्रॉपर्टी का अटैचमेंट किया गया है.
2. सौम्या चौरसिया की 21 प्रॉपर्टी को अटैच किया गया है.
3. आईएएस अधिकारी समीर विश्नोई की पांच प्रोपर्टी का अटैचमेंट किया गया है.
4. दुर्ग में 12 एकड़ की जमीन को भी अटैच किया गया है.
5. कुछ फार्म हाउस को कुर्क किया गया है.
6. ईडी की ओर से जिन आरोपियों की प्रोपर्टी को अटैच किया गया है उनमें सुनील अग्रवाल भी शामिल हैं.
7. दुर्ग सहित अन्य इलाकों में कृषि योग्य करीब 63.38 एकड़ भूमि को अटैच किया गया है.
8 . रायपुर में कई कृषि योग्य भूमि को कुर्क किया गया है.

75 लोकेशन पर सर्च ऑपरेशन को अंजाम दिया गया था
ईडी की ओर से कुछ समय पहले ही छत्तीसगढ़ की 75 लोकेशन पर सर्च ऑपरेशन को अंजाम दिया गया था. इनमें छत्तीसगढ़ के खनन विभाग से जुड़े हुए कई अधिकारियों और अवैध तौर पर काम करने वाले कई कारोबारियों के यहां सर्च ऑपरेशन को अंजाम दिया गया था. सर्च ऑपरेशन के दौरान विशेष तौर पर कोरबा और रायगढ़ इलाके से कई महत्वपूर्ण दस्तावेजों और सबूतों को इकट्ठा किया गया था. उसके आधार पर करीब 100 से ज्यादा लोगों से इस मामले में पूछताछ हुई थी. कई राजनीतिक हस्ती और कारोबारी ईडी के राडार पर हैं.

Leave a Comment